Blog

Happy mother’s day!

41A07C08-E359-4DD6-85F7-3A86455AA883
Clicked by : JS in marine drive,Mumbai

I am really blessed to have you as 

My little Angel,

My whole world,

My bestie,

My inspiration,

And everything 😊

Being a mother I gained much more than I could ever imagine…

©️Archana Aadria

Advertisements

Napowrimo : Last day…”ज़िंदगी का आलम”

37138B84-D953-4E98-A75B-1F0A9EF53D05

सोने मैं जाती हूँ,

नींद मुझे आती नहीं,

बेवजह दरवाज़े वो खटखटाती नहीं,

पट खोल कर कुछ पल बतियालो सही,

ज़िंदगी का आलम बताओ तो सही,

क्यों खामखां हँसती हों,

दिल के दर्द सहती हो,

कुछ पल बैठो तो सही,

बातों के फ़लसफ़े बया करो तो सही,

ज़िंदगी ये कुछ पल की है,

इसे अपने मन से जीं लो तो सही,

आई हो इस जहाँ में,

तो कुछ बड़ा कर दो यहीं,

मैं तुम्हारे साथ हूँ,

अपने दिल में झाँको तो सही,

मैं वहीं खड़ा हूँ जहाँ छोड़ आईं थीं,

तनिक पीछे देखो तो सही,

चल पड़ेंगे हम साथ,

ज़रा हाथो में हाथ देकर तो देखो सही।।

©️Archana Aadria

Napowrimo : Day- 29…”वो रवानगिया”

लिखती चली जाती हू,

बेबाक़ होकर…

ज़िन्दगी से ज़िन्दगी की कहानियाँ,

कोई आकर पुछे ज़रा,
क्या होती है वो रवानगिया…

©️Archana Aadria

Napowrimo : Day 28…”Silence”

Silence…In the midst of the storm,

Silence…In the midst of chaotic words,

Silence…In the crowd,

Silence…In between two people,

Silence…Where everything seems perfect,

Silence…Where everything falls apart,

Silence…Who talk too much

But still there is something lacking

Silence…Two hearts want to come close

But there is something which they are trying to understand

Silence…Words are not enough to comphred

Silence which is always there to understand life more,

to laugh more!!

©️Archana Aadria

Napowrimo : Day 27…”कुछ लम्हे तेरे संग”

1A92098C-A44E-4D56-8720-8804619472DF

लिखती हूँ साथ ही चलती हूँ,

नंगे पैर पानी में,

पानी की बूँदो से भीग जाती हूँ,

और लहरों संग बहने लगती हूँ,

इस पार नहीं तो उस पार तेरे संग चलने लगती हूँ,

किन किनारों पर हम होंगे संग,

ना तुझे पता, ना मुझे पता,

लहरें मुझसे कहती हैं,

हमें भी ले चलों संग,

हमें सब पता,

हम उसे छोड़ देते है,

किनारों संग बार बार टकराने को,

और वही बह जाने को,

और हम चल पड़ते है,

अपना घरोंदाँ तिनको संग बनाने को।।

©️Archana Aadria

Napowrimo : Day 26…”A Poet”

I am the poem,

And you are the poet;

I am your words,

And you are my paper;

I am your colour,

And you are my hand;

I am your pen,

And you are my ink;

I am your inspiration,

And you are my flow;

I am your strength,

And you are my power.

©️Archana Aadria

Napowrimo : Day 25…”meant to fly”

838AC5F0-DFF7-4FE7-A49D-4D5E1ADA1519

Where moon sing a song with you,

And all stars shine,

And dance together in moonlit sky,

Because you are you,

And you are meant to fly!
@Archana Aadria